Gujarat Titans
  • 6 December 2023
  • jackson13bhai@gmail.com
  • 0

कुछ दिनों पहले, भारतीय ऑल-राउंडर हार्दिक पांड्या ने Gujarat Titans (गुजरात टाइटन्स) से मुंबई इंडियंस की ओर एक ड्रामेटिक कदम बढ़ाया। अब, ऐसा दिखता है कि दूसरे Gujarat Titans (गुजरात टाइटन्स) खिलाड़ी को अन्य फ्रैंचाइजियों ने ‘अनैतिक’ तरीके से offer किया है।

1. Mohammed Shami (मोहम्मद शमी) पर आए ऑफर्स:

  • Gujarat Titans (गुजरात टाइटन्स) के सीईओ कर्नल अरविंदर सिंह ने स्वीकार किया कि अन्य फ्रैंचाइजियां Mohammed Shami (मोहम्मद शमी) को अपनी ओर खींचने के लिए प्रशिक्षण स्टाफ से संपर्क कर रही हैं, जो अनैतिक है।
  • उन्होंने बताया कि इसे अनुचित माना जाता है और कोई निर्दिष्ट फ्रैंचाइज़ का नाम नहीं दिया गया है।

2. IPL 2024 के लिए Gujarat Titans (गुजरात टाइटन्स) की तैयारी:

  • इस महीने के आईपीएल नीलामी के बाद, Gujarat Titans (गुजरात टाइटन्स) के पास अब 38.15 करोड़ रुपये की झोली, दो विदेशी खिलाड़ी स्लॉट्स और कुल 8 स्थान हैं।
  • इसके बाद, जब Gujarat Titans (गुजरात टाइटन्स) का थिंक टैंक आईपीएल 2024 की नीलामी के लिए पुनर्गठित होगा, तब यह होगा।
See also  Ollie Robinson needs to shoosh as he wouldn’t have got a game in Ashes 2023: Michael Clarke fires fresh salvo

3. कैप्टन की कुर्सी:

  • हार्दिक की अनुपस्थिति में, शुभमन गिल को Gujarat Titans (गुजरात टाइटन्स) के कैप्टन बनाया गया है, जो 24 वर्षीय आईपीएल कैप्टनों में से एक बनेंगे।

4. पिछले संस्करण का संक्षेप:

  • पिछले आईपीएल के संस्करण में, Gujarat Titans (गुजरात टाइटन्स) ने अपने पहले दो सीजन में दूसरी बार आईपीएल के फाइनल में पहुंचा लिया।
  • हालांकि, वे चेन्नई सुपर किंग्स के हाथों हार कर रनर-अप बन गए।

5. समापन:

इस लेख से स्पष्ट है कि गुजरात टाइटन्स के खिलाड़ी Mohammed Shami (मोहम्मद शमी) को अनैतिक तरीके से आसन्न करने की कोशिश कर रही हैं, जिससे टीम के संघर्ष में विघ्न उत्पन्न हो रहा है। इस परिस्थिति में, गुजरात टाइटन्स के सीईओ द्वारा इसे अनुचित माना गया है और इसे सीधे रूप से सामने आने की कोशिश कर रहे हैं। IPL 2024 के लिए Gujarat Titans की तैयारी में बदलाव और स्लॉट्स की संख्या की वृद्धि एक सकारात्मक पहलू है, जिससे वे एक मजबूत टीम बना सकते हैं। कैप्टन की कुर्सी पर शुभमन गिल को चुनना एक सजीव निर्णय है जो टीम को मजबूती प्रदान कर सकता है। पिछले संस्करण की सफलता के बावजूद, इस बार गुजरात टाइटन्स को विजेता बनने के लिए अधिक कठिनाईयों का सामना करना होगा। समापन में, गुजरात टाइटन्स को टीम के एकजुटता और सामरिकता में ध्यान देना होगा ताकि वे अपने खेल में उत्कृष्टता प्राप्त कर सकें।

See also  Naveen-ul-Haq levels fresh allegations against Virat Kohli